"कन्या विवाह एंड विकास सोसाइटी"
नामक स्वयं सेवी संस्था को बदनाम करने की साजिश :-

जिला सुपौल में एक वयक्ति के द्वारा अवैध पैसा मांगे जाने पर संस्था के सचिव श्री विकाश कुमार ने पैसे देने से इंकार किया तो उनके संस्था के ऊपर झूठा आरोप लगा कर जिला प्रसाशन के द्वारा जिला कार्यालय को सील कर दिया गया लेकिन सुपौल अनुमंडल अधिकारी एवं प्रखंड विकाश पदाधिकारी के समक्ष संस्था के अध्यक्ष पूनम कुमारी एवं संस्था के पदाधिकारी ने संस्था रजिस्टर्ड होने एवं संस्था से जुड़े सारे आवश्यक कागजात पेश करने के बाद जिला कार्यालय सुपौल को अनुमंडल अधिकारी के निर्देश पर प्रखंड विकाश पदाधिकारी के द्वारा खुलवा दिया गया | और जो वयक्ति रंगबाजी मांगी उसके ऊपर क़ानूनी करवाई की प्रक्रिया संस्था सुरु कर दी है |

यह संस्था कन्या विकाश सोसाइटी छः वर्षो से गया जिला से शुरुआत करते हुए राज्य के भिन भिन जिलों में संस्था के उद्येश्यों को पूरा करने हेतु जागरूक कर कार्य किया जा रहा है | और अब तक हजारो कन्याओं का संस्था के दवारा लाभ दिया जा चूका है | मात्र ३० रु० प्रति छः माह पर लेकर उनके विवाह के समय विदाई सामग्री देकर सम्मान के साथ विदा करने का कार्य करते आ रही है | और प्रत्येक वर्ष सैकड़ो कन्याओं का सामूहिक विवाह करने का भी काम करते आ रही है | लेकिन संस्था के सचिव श्री विकाश कुमार ने बताया की उन्हें असामाजिक तत्वों के लोगो ने काफी परेशान कर बदनाम करने काम करते आ रहे है और काफी सामाजिक लोगो एवं पत्रकार महोदयों तथा प्रतिनिधि एवं प्रशासनिक पदाधिकारियों के सहयोग से संस्था का काम सफल करते आ रहे है | और संस्था का मुख्य उद्देश्य है :- बाल विवाह एवं दहेज प्रथा को रोकना एवं सामूहिक विवाह प्रोत्साहन करना |

संस्था के सचिव ने बताया की सुपौल जिले में उनके ऊपर बेटियों को पंजीयन करवाने के नाम पर दो -दो सौ रूपए की ठगी की जा रही है जो बिलकुल झूठ है, गलत है संस्था में पंजीयन सदस्यता शुल्क २५ रु० है | और छः माह में ३० रु० से नवीकरण करना होता है | संस्था का बदनाम करने के लिए धमकी देने वाला वयक्ति अपने आप को प्रभात खबर को पत्रकार बता रहा था और एक लाख रूपये की मांग की थी | लेकिन संस्था के सचिव ने देने से इंकार किया तो उन्होंने झूठा आरोप लगा कर संस्था के बारे में प्रभात खबर पेपर में छपवा दी | पेपर में छपी गयी पूरी बात झूठी है उनके ऊपर आरोप लगा कर बदनाम करने की साजिश थी | अगर संस्था गलत रहती तो छः वर्षो से कार्य नहीं कर पाती और संस्था के कार्य -प्रोग्राम मंत्रीगण ,पदाधिकारी गण शामिल होते है | और इनके कार्य को सराहनीय बताते हैं | आशीर्वाद देने को भी कार्य करते हैं |

Submit Your Feedback

गया के धर्मशाला भवन

गया के धर्मशाला भवन में सामूहिक विवाह समारोह के बारे में संस्था सचिव विकाश कुमार एवं समाज कल्याण मंत्री |

सुपौल जिला कार्यालय

सुपौल जिला कार्यालय से जांच प्रक्रिया होने के बाद सील खोलते प्रखंड विकास पदाधिकारी |